Thursday, May 19www.babalkhabar.com : For your kind information
Shadow

21 दिन तक रोजाना भिगोकर खाएं 7 किशमिश, होंगे ये अद्भुत लाभ..

किशमिश का नाम सुनते ही मुंह में मिठास घुल जाती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि किशमिश को भिगो कर खाने के फायदे कितने हैं। अगर नहीं तो चलिए जानते हैं। किशमिश या अन्य ड्राई फ्रूट का सेवन हम सभी ने किया है।  इसके अंदर मौजूद गुण और इसके स्वाद की वजह से लोग इसके दीवाने हैं। भारतीय बाजार में यह अन्य ड्राई फ्रूट्स के मुकाबले काफी सस्ती भी है। लेकिन बहुत ही कम लोग इसके फायदो को दुगना करने की तरकीब जानते हैं।

आपको बता दें कि किशमिश में पाया जाने वाला शुगर कंटेंट इसे भिगोने पर काफी कम हो जाता है, इसलिए इसे भिगोकर खाने की सलाह दी जाती है. रोजाना यदि आप 7-8 किशमिश भी खाते हैं तो लंबे समय में यह आपको कई तरह से फायदेमंद साबित होंगे. आगे पढ़िए हर रोज किशमिश खाने से होने वाले फायदों के बारे में.

यदि आपके घर में किसी को उच्च रक्तचाप की समस्या है तो रात को आधे गिलास पानी में 8-10 किशमिश भिगो दें. सुबह उठकर बिना कुछ खाएं किशमिश के पानी को पी लें. आप चाहें तो भीगी हुई किशमिश को खा भी सकते हैं. इससे कुछ दिन में उच्च रक्तचाप की समस्या में आराम मिलेगा.

दांत और हड्डियों को मजबूत बनाए रखने के लिए कैल्शियम की आवश्यकता होती है। ऐसे में किशमिश का सेवन दांतों और हड्डियों के लिए भी किया जा सकता है। आपको बता दें कि 100 ग्राम किशमिश के अंदर करीब 50 एमजी कैल्शियम होता है। जो आपके दांत और हड्डियों को मजबूत बनाने का कार्य करती है।

यदि आपको लंबे समय से खांसी है, जिसे आमतौर पर सूखी खांसी कहा जाता है. या दमा की समस्या है तो आपको किशमिश खाने से आराम मिलता है. लंबे समय से खांसी से परेशान व्यक्ति रोज किशमिश खाएं. इसका सेवन टीबी के रोगियों को भी आराम देता है.

किशमिश का यह ऐसा फायदा है जिसके बारे में बेहद कम लोग जानते हैं। अगर कोई ऐसा व्यक्ति हो जिसे नींद ना आने की समस्या हो, तो उसके लिए भिगोए हुए किशमिश किसी वरदान से कम नहीं है। किशमिश के अंदर मौजूद तत्व आपको अच्छी नींद दिलाने के काम भी आ सकते हैं।

बदलती जीवनशैली के बीच कब्ज की समस्या आम है. किशमिश का सेवन कब्ज की समस्या में राहत देता है और आपके पेट को सही रखता है. किशमिश के सेवन से हृदय की दुर्बलता भी दूर होती है. इसका सेवन आंखों की रोशनी बढ़ाने में भी कारगर है.

ध्यान रहे कि यह प्रक्रिया आपको केवल ऑर्गेनिक किशमिश के साथ ही करनी है। क्योंकि अन्य किशमिश पर केमिकल का इस्तेमाल किया गया हो, ऐसा हो सकता है। जिसकी वजह से केवल ऑर्गेनिक किशमिश को ही भिगोकर उसका पानी पिएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!